ऐ वक्त

“ऐ वक्त ठहर जा
मेरा कोई आनेवाला है
अपनों का इंतजार
अब मिटानेवाला है

साथ देना सासों को
ये दिल रुकनेवाला है
सदियाँ गुजर गई
वो कुछ कहनेवाला है

खुदा संभालो मुझे
ये दर्द रोनेवाला है
आखें जो नम हुईं
खुदको भुलानेवाला है

एक ख्वाहिश केह दे उसे
तेरी बाहों में मरजाना हैं
फिर जो छुठे साथ
दुनिया से मिटनेवाला है

ऐ वक्त ठहर जा
मेरा कोई आनेवाला है!!”

✍️ योगेश

Leave a Reply